अब तेरी “काँल” की उम्मीद तो नही पर, ना जाने क्या सोचकर “नंबर” नही बदलते हम.

Advertisements